Happy Navratri Attitude Love Sad Good Morning Good Night

Home Humsafar Shayari in Hindi

Humsafar Shayari in Hindi

हमारी तो सिर्फ एक ही ख्वाहिश है
हमारी तो सिर्फ एक ही ख्वाहिश है
हर जन्म मेरे हमसफर तुम ही बनो



जिंदगी की राहो में मिलेंगे तुम्हें हजारों हमसफर
जिंदगी की राहो में मिलेंगे तुम्हें हजारों हमसफर
लेकिन उम्र भर भूल ना पाओगे वह मुलाकात हु मैं



मेरे बाद किसी और को हमसफ़र बनाकर देख लेना
मेरे बाद किसी और को हमसफ़र बनाकर देख लेना
तेरी ही धड़कन कहेगी कि उसकी वफ़ा में
कुछ और ही बात थी



यह भी देखिए:
बातें तो हर कोई समझ लेता है
बातें तो हर कोई समझ लेता है
हमसफर ऐसा हो जो खामोशी भी समझे



हमसफर बन गए हमनवा बन
हमसफर बन गए हमनवा बन
तुम मेरे आसमां मेरी जमीन बन गए



जिंदगीकी राहों में मुस्कुराते रहो हमेशा
जिंदगीकी राहों में मुस्कुराते रहो हमेशा
उदास दिलों को हमदर्द तो मिलते हैं हमसफर नहीं



गगन से भी ऊंचा मेरा प्यार है
गगन से भी ऊंचा मेरा प्यार है
तुझी पर मिटूंगा ये इकरार है
तू इतना समझ ले मेरे हमसफ़र
तेरे प्यार से मेरा संसार है



यह भी देखिए:
एक हमसफ़र हो बिल्कुल आईने जैसा जो हंसे भी साथ और रोए भी साथ
एक हमसफ़र हो बिल्कुल आईने जैसा
जो हंसे भी साथ और रोए भी साथ



तुझे क्या ख़बर मेरे हमसफ़र
तुझे क्या ख़बर मेरे हमसफ़र मेरा मरहला कोई और है
मुझे मंज़िलों से गुरेज़ है मेरा रास्ता कोई और है



जिंदगी में कुछ ना पा सके तो क्या गम है
जिंदगी में कुछ ना पा सके तो क्या गम है
तेरे जैसा हमसफ़र पाया यह क्या कम है



राह भी तुम हो राहत भी तुम ही हो
राह भी तुम हो राहत भी तुम ही हो
मेरे सुख और दुख को बांटने वाली
हमसफर भी तुम ही हो



एक ही मंजिल है उनकी एक ही है रास्ता
एक ही मंजिल है उनकी‚ एक ही है रास्ता
क्या सबब फिर हमसफ़र से हमसफ़र लड़ने लगे



जरूरते भी जरुरी है जीने के लिये लेकिन
जरूरते भी जरुरी है जीने के लिये लेकिन
तुझसे जरूरी तो जिंदगी भी नहीं



अकेला छोड़ने वालों को ये बताए कोई
अकेला छोड़ने वालों को ये बताए कोई
कि हम तो राह को भी हमसफ़र समझते हैं



जो उड़ाते थे मेरे सफर का मजाक
जो उड़ाते थे मेरे सफर का मजाक
रफ्ता रफ्ता मेरे हमसफर हो गए



उल्फत में अक्सर ऐसा होता है
उल्फत में अक्सर ऐसा होता है
आँखे हंसती हैं और दिल रोता है
मानते हो तुम जिसे मंजिल अपनी
हमसफर उनका कोई और होता है



शाम आई तो बिछुड़े हुए हमसफ़र
शाम आई तो बिछुड़े हुए हमसफ़र
आंसुओं से इन आंखों में आने लगे
आंखें मंज़र हुई, काम नग़्मा हुए
घर के अन्दाज़ ही घर से जाते रहे



एक हमसफर को दूसरे की कद्र करनी चाहिए
एक हमसफर को दूसरे की कद्र करनी चाहिए
क्योंकि यही प्यार का आधार होता है



अपने हमसफर का ध्यान रखना चाहिए
अपने हमसफर का ध्यान रखना चाहिए
क्योंकि प्यार के बदले हीं प्यार मिलता है



हमसफ़र मेरे हमसफ़र पंख तुम परवाज़ हम
हमसफ़र मेरे हमसफ़र पंख तुम परवाज़ हम
ज़िंदगी का साज़ हो तुम साज़ की आवाज़ हम



अब इस के बाद घने जंगलो की मंजिल है
अब इस के बाद घने जंगलो की मंजिल है
ये वक़्त है के पलट जाएँ हमसफ़र मेरे



हम नादां थे जो उन्हें हमसफ़र समझ बैठे
हम नादां थे जो उन्हें हमसफ़र समझ बैठे
वो चलते थे मेरे साथ पर किसी और की तलाश में



हम चले तो जाए किसी सफर को
हम चले तो जाए किसी सफर को
कोई मंजिल तो भाये इस नजर को
वो जो हम सफर नहीं तो न सही
राह में तो ठोक रहे हो इस कसर को



सच्चा हमसफ़र चेहरे का नहीं दिल का दीवाना होता है
सच्चा हमसफ़र चेहरे का नहीं
दिल का दीवाना होता है



हमसफ़र खूबसूरत हो या ना हो लेकिन सच्चा होना चाहिए
हमसफ़र खूबसूरत हो या ना हो
लेकिन सच्चा होना चाहिए



अगर हमसफ़र साथ देने वाला हो तो रास्ते कितने भी मुश्किल भरे हो
अगर हमसफ़र साथ देने वाला हो
तो रास्ते कितने भी मुश्किल भरे हो
ज़िन्दगी का सफर खूबसूरत हो ही जाता है



सफर में चलते चलते अक्सर हाथ छूड़ जाते हैं
सफर में चलते चलते अक्सर हाथ छूड़ जाते हैं
जुदा कहां हो जाते हैं हमसफ़र मगर हां रूठ जाते हैं



तस्वीर में सा दिखने वाले हमसफर नहीं होते
तस्वीर में सा दिखने वाले हमसफर नहीं होते
तकलीफ में साथ देने वाले हमसफर होते है



जहां सर झुक जाए वही खुदा का घर है जहां हर नदी मिल जाए वही समुंदर है
जहां सर झुक जाए वही खुदा का घर है
जहां हर नदी मिल जाए वही समुंदर है
इस जिंदगी में दर्द तो सब देते हैं
जो दर्द समझे वही अच्छा सच्चा हमसफ़र है